जलापूर्ति

सिंचाई

झारखंड के लिए सिंचाई जल 16,882 रोक बाँधों व अनेक बड़े व छोटे जलागारों के माध्यम से प्रदान किया जाता है । विद्यमान कोनार बाँध तथा बाल पहाड़ी बाँध, अगर निर्मित होता है, से सिंचाई संभाव्यता के सृजन हेतु एक प्रस्ताव है ।

पश्चिम बंगाल में निम्न दामोदर घाटी के अधिकार क्षेत्र हेतु सिंचाई जल की आपूर्ति दुर्गापुर बराज (1955 में डीवीसी द्वारा निर्मित तथा तदुपरांत प्रणाली के प्रचालन व अनुरक्षण हेतु अभिकरण आधार पर 1964 में पश्चिम बंगाल सरकार को सौंप दिया गया था) से टेक ऑफ बिन्दु के अधोस्रोत पर लेफ्ट बैंक मुख्य नहर (एलबीएमसी) के मुख्यतः 8 अदद शीर्ष रेगुलेटरों के माध्यमों से की जाती है ।

घरेलू व औद्योगिक जलापूर्ति

डीवीसी घाटी क्षेत्र में विभिन्न स्थलों पर फैले लगभग 170 म्यूनिसिपल व औद्योगिक अभिकरणों को दामोदर घाटी प्रणाली से प्रतिवर्ष लगभग 340 एमसीएम जलापूर्ति कर रहा है ।

औद्योगिक तथा घरेलू उद्देश्यों हेतु जल निकासी बाबत अनुमति

इच्छुक पार्टी जल आबंटन, शुल्क संरचना, करार व बिलिंग आदि की विस्तृत जानकारी के लिए निम्नलिखित अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं :

मुख्य अभियंता (सिविल), डीवीसी, मैथन, पोस्ट – मैथन डैम, जिला : धनबाद, झारखण्ड – 828207

जल प्रभार औद्योगिक तथा घरेलू उद्देश्यों के प्रति ऐसे आहरण हेतु प्रयोज्य है ।