शिक्षा

You are here:

शिक्षा के क्षेत्र में डीवीसी अपनी परियोजनाओं के चतुर्दिक निवास कर रहे बच्चों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए पूरी तरह से प्रयत्नशील है । डीवीसी झारखंड तथा पश्चिम बंगाल में 16 प्राथमिक, माध्यमिक तथा उच्च माध्यमिक विद्यालय चलाता है । गरीब ग्रामीण परिवारों के करीब दस हजार बच्चे इन औपचारिक विद्यालयों में शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं । उपर्युक्त के अलावा डीवीसी तीन (03) केन्द्रीय विद्यालयों मैथन, बोकारो और चंद्रपुरा प्रत्येक में एक-एक तथा मेजिया अवस्थित एक डीएवी विद्यालय प्रायोजित करता है जहाँ प्राथमिक पणधारियों के बच्चे शिक्षा पा रहे हैं ।

Education

आईटीआई की स्थापना :

बेरोजगार एवं अल्प अधिकार प्राप्त बच्चों को तकनीकी शिक्षा प्रदान करने में सरकारी पहल के समर्थन में, डीवीसी ने झारखण्ड तथा पश्चिम बंगाल राज्यों में विद्यमान आईटीआई को संवर्द्धित करने तथा नये आईटीआई स्थापित करने में सहभागिता की ।

 

  1. झारखण्ड तथा पश्चिम बंगाल राज्यों में निम्नलिखित विद्यमान आईटीआई को संवर्द्धित किये गये ।
  • आईटीआई, जिला – हजारीबाग
  • आईटीआई, चास, जिला – बोकारो
  • आईटीआई, धनबाद, जिला – धनबाद
  • आईटीआई, चतना, जिला – बांकुड़ा
  • आईटीआई, दुर्गापुर, जिला – बर्दवान
  • आईटीआई, बोलपुर, जिला – वीरभूम

 

  1. दो नये आईटीआई, डीवीसी द्वारा स्थापित किये गये हैं ।
  • कोडरमा, जिला – कोडरमा
  • चंद्रपुरा, जिला – बोकारो