स्वास्थ्य

साएका अपने प्रतिवेशियों को समुदाय स्वास्थ्य सेवाएँ प्रावधानित करता है । वे दोनों सेवाएँ निवारात्मक तथा निरोगात्मक प्रकृति की हैं ।

निवारात्मक स्वास्थ्य सेवाएँ

डीवीसी पूरे वर्ष विभिन्न स्वास्थ्य जागरुकता शिविर आयोजित करता  है :

  • पल्स पोलियो प्रतिरक्षण शिविर
  • मलेरिया प्रतिरोधक शिविर
  • एड्स तथा एचआईवी जागरुकता शिविर
  • डायिरया प्रतिरोधक शिविर
  • चक्षु (कैटरेक्ट) ऑपरेशन शिविर
  • टीबी जागरुकता तथा जांच शिविर
  • कैंसर जागरुकता शिविर

आरोग्यकर स्वास्थ्य सेवाएँ

डीवीसी झारखण्ड और पश्चिम बंगाल में लगभग 300 गांवों में 12 सुसज्जित चलमान चिकित्सा वैन तथा 9 होमियो केन्द्रों के माध्यम से ग्रामीणों के द्वार-द्वार जाकर आरोग्यकर स्वास्थ्य सेवाएँ प्रावधानित करता है ।