राजभाषा कार्यशाला

कार्यशाला के शुभारंभ पर वरिष्ठ हिन्दी अधिकारी श्री नवीन कुमार प्रजापति द्वारा अतिथियों का स्वागत करते हुए परिलक्षित।

कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए श्री अर्द्धेन्दु घोष, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, डीवीसी।

कार्यशाला के दौरान मंगलदीप प्रज्ज्वलित करते हुए श्री प्रभात किरण, मुख्य अभियंता-। व प्रभारी (मासं), डीवीसी साथ में परिलक्षित श्री अर्द्धेन्दु घोष, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, डीवीसी एवं श्री के.एन. यादव, सहायक महाप्रबंधक, सेल।

कार्यशाला में प्रशिक्षण प्रदान करती श्रीमती ऋता गुप्ता, वरिष्ठ प्रबंधक, भेल, कोलकाता।

कार्यशाला में प्रशिक्षण प्रदान करते डॉ. सतीश पाण्डेय, प्रभारी, केन्द्रीय अनुवाद ब्यूरो, भारत सरकार, गृह मंत्रालय।

कार्यशाला के अंत में श्री अर्द्धेन्दु घोष, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, डीवीसी ने सभी प्रतिभागियों को बताया कि कार्यशाला का उद्देश्य कार्यालय के कार्य में अधिक से अधिक हिन्दी का प्रयोग एवं हिन्दी में काम करने की झिझक को दूर करना है । उन्होंने यह भी कहा कि आगामी दिन से सभी प्रशिक्षित प्रतिभागी अपना-अपना कार्यालयीन कार्य अधिक से अधिक हिन्दी में करेंगे । श्री नवीन कुमार प्रजापति, वरिष्ठ हिन्दी अधिकारी के धन्यवाद ज्ञापन से कार्यशाला समाप्त घोषित हुई।

डीवीसी मुख्यालय में विगत 21 अगस्त, 2015 को अधिकारियों के लिए राजभाषा कार्यशाला का आयोजन किया गया । कार्यशाला का उद्घाटन निगम के सदस्य सचिव श्री पी. के. मुखोपाध्याय द्वारा किया गया । इस अवसर पर श्री अर्द्धेन्दु घोष, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, दाघानि, श्री प्रभात किरण, मुख्य अभियंता व प्रभारी (मासं), श्री एस. टी. अफरोज, मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी एवं श्री एस.एस.पी. सिंह, उप महाप्रबंधक (राजभाषा), एयरपोर्ट अथॉरिटी, कोलकाता उपस्थित थे । इस कार्यशाला में निगम के 30 अधिकारियों ने भाग लिया । कार्यशाला का उद्देश्य अधिकारियों को अपना कार्यालयीन कार्य हिन्दी में करने के लिए प्रोत्साहित करना था । इस अवसर पर सदस्य सचिव श्री पी. के. मुखोपाध्याय ने राजभाषा के महत्व पर प्रकाश डाला और अधिकारियों को अपना उदाहरण स्वयं प्रस्तुत करने का अनुरोध किया । श्री अर्द्धेन्दु घोष, अपर सचिव ने निगम में राजभाषा के बढ़ते चरण पर प्रकाश डाला । श्री एस.एस.पी. सिंह, उप महाप्रबंधक (राजभाषा), एयरपोर्ट अथॉरिटी ने डीवीसी में चल रही राजभाषा गतिविधियों की मुक्त कंठ से प्रशंसा की । श्री एस.टी. अफरोज, मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी ने धन्यवाद ज्ञापित किया एवं श्री नवीन कुमार प्रजापति, वरिष्ठ हिन्दी अधिकारी ने कार्यक्रम का संचालन किया ।

निगम सदस्य सचिव राजभाषा प्रोत्साहन मार्गदर्शिका का लोकार्पण करते हुए परिलक्षित ।

(बाएँ से श्री नवीन कुमार प्रजापति, वरिष्ठ हिन्दी अधिकारी, श्री प्रभात किरण, मुख्य अभियंता व प्रभारी (मासं), श्री अर्द्धेन्दु घोष, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, दाघानि, श्री पी.के. मुखोपाध्याय, सदस्य सचिव, श्री एस.एस.पी. सिंह, उप महाप्रबंधक (राजभाषा), एयरपोर्ट अथॉरिटी एवं श्री एस.टी. अफरोज, मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी)

निगम सदस्य सचिव राजभाषा समन्वयक मार्गदर्शिका का लोकार्पण करते हुए परिलक्षित ।

(बाएँ से श्री नवीन कुमार प्रजापति, वरिष्ठ हिन्दी अधिकारी, श्री प्रभात किरण, मुख्य अभियंता व प्रभारी (मासं), श्री अर्द्धेन्दु घोष, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, दाघानि, श्री पी.के. मुखोपाध्याय, सदस्य सचिव, श्री एस.एस.पी. सिंह, उप महाप्रबंधक (राजभाषा), एयरपोर्ट अथॉरिटी एवं श्री एस.टी. अफरोज, मुख्य जन सम्पर्क अधिकारी)

दामोदर घाटी निगम मुख्यालय में 08 मार्च, 2016 को निगम के उच्च अधिकारियों के लिए राजभाषा कार्यशाला का आयोजन किया गया । मुख्य अतिथि बतौर   डॉ. सोमा वंद्योपाध्याय, रजिस्ट्रार, कलकत्ता विश्वविद्यालय उपस्थित थीं । इस अवसर पर निगम के माननीय अध्यक्ष श्री ए. डब्ल्यू. के. लैंगस्टे, श्री पी. के. मुखोपाध्याय, सदस्य सचिव, श्री आर. पी. त्रिपाठी, सदस्य तकनीकी, श्री एम. विश्वास, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, डीवीसी, श्री प्रभात किरण, मुख्य अभियंता व प्रभारी (मासं) आदि भी उपस्थित थे ।

अपने अभिभाषण में डॉ. वंद्योपाध्याय ने भाषा और शब्दों की स्थिति और उसके व्यवहार पर प्रकाश डाला । उन्होंने यह भी बताया कि एक भाषा के शब्द दूसरे भाषा में कैसे अपने अर्थों में उलट परिवर्तन ला देते हैं । भाषा का व्यवहार देश काल और वातावरण को ध्यान में रख कर ही करना समीचीन होता है क्योंकि हमारी अभिव्यक्ति का सशक्त माध्यम भाषा है जिसमें हम अपने विचार एक दूसरे पर प्रकट करते हैं ।

माननीय निगम अध्यक्ष, सदस्य सचिव एवं सदस्य तकनीकी ने भी अपने विचार रखे और डीवीसी में राजभाषा के प्रचार-प्रसार के लिए कोई भी कसर उठा नहीं रखने का संकल्प दोहराया । श्री एम. विश्वास, अपर सचिव व अध्यक्ष, राभाका समिति, डीवीसी ने डीवीसी में चल रही राजभाषा गतिविधियों पर प्रकाश डाला । श्री नवीन कुमार प्रजापति, प्रबंधक (राजभाषा) ने कार्यक्रम का संचालन व धन्यवाद ज्ञापित किया ।